आ गया इजराइल का स्पाइडर डिफेंस सिस्टम, चीन की वायु सेना का खतरा ख़त्म, चीनी मिसाइलों से भी अब कोई खतरा नहीं

ट्रेडिंग


दोस्त वही होता है जो मुसीबत में काम आये, भारत का देखा जाये तो दुनिया में 1 ही ऐसा दोस्त है जो मुसीबत में काम आता है और वो दोस्त है इजराइल

रूस और दुसरे देश भारत को सिर्फ हथियार सप्लाई करते है, पर वो भारत के साथ तकनीक साझा नहीं करते, पर इजराइल भारत के साथ सब तरह की जानकारियां साझा करता है और यही चीज इजराइल को सबसे अलग बना देती है

इजराइल और भारत में पैसे को लेकर मित्रता नहीं है, ये असली मित्रता है, ये मूल रूप से हिन्दू-यहूदी मित्रता है

इजराइल भारत के हमेशा काम आया है और चीन के साथ हुए तनाव के बाद अब फिर इजराइल सामने आया है, भारत पर चीन के मिसाइल, और फाइटर जेट्स के अटैक का खतरा है, चीन की पैदल सेना तो भारतीय सेना से पिट चुकी है, और इसी कारण चीन अब मिसाइल या जेट अटैक कर सकता है

और ऐसे समय में भारत के पास रूस से मिलने वाले S-400 मिसाइल सिस्टम भी नहीं है जो एयर डिफेंस कर सके, ऐसे कठिन समय में भारत के काम आया है इजराइल

जानकारी ये सामने आई है की इजराइल भारत को इमरजेंसी पड़ने पर, यानि भारत जब मांग करेगा तब बिना किसी देर स्पाइडर मिसाइल सिस्टम देगा

ये बहुत ही एडवांस एयर डिफेंस सिस्टम है, ये दुश्मन देशों से आ रहे मिसाइल या फाइटर जेट्स को हवा में ही मार गिराता है, ऐसे में दुश्मन का फाइटर जेट और मिसाइल दोनों किसी काम के नहीं रहते

दुनिया में 2 ही एयर डिफेंस सिस्टम पूरी तरह फुल प्रूफ माने जाते है, एक रुसी S-400 और दूसरा इजराइल का स्पाइडर मिसाइल सिस्टम, भारत को चीन से मिसाइल या फाइटर जेट के अटैक का खतरा है और ऐसे में रुसी हथियारों की सप्लाई में हो रही देरी को देखते हुए इजराइल भारत के साथ खड़ा हो गया है

भारत को अब चीन के फाइटर जेट्स और मिसाइलों से कोई खतरा नहीं है, चीनी फाइटर जेट्स और मिसाइल अगर भारत की तरफ आते है तो उन्हें स्पाइडर मिसाइल सिस्टम से हवा में ही मार गिराया जायेगा

इजराइल ने एक सच्चे मित्र का फर्ज निभाया है और साबित कर दिया है की भले दुनिया में कोई भारत के साथ हो न हो पर इजराइल हर कठिन समय में भारत के साथ चट्टान की तरह खड़ा है और इजराइल और भारत की मित्रता पैसे और व्यापार को लेकर नहीं बल्कि ये मित्रता हजारों साल के इतिहास और भावनाओं की है

CopyAMP code

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *