LAC से बड़ी खबर: सीमा पर चीन नहीं आ रहा बाज, आज फिर छिड़ेगी जवाबी जंग

ट्रेडिंग


नई दिल्ली: बीते 3-4 महीने से लद्दाख में लाइन ऑफ एक्च्यूअल कंट्रोल (एलएसी) पर भारत और चीन के मध्य तनातनी जारी है। ऐसे में जारी इस तनाव को लेकर दोनों देशों के बीच आज फिर बातचीत होनी है। ये बातचीत मोल्डो में होने वाली है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, इस बातचीत के केंद्र में पैंगॉन्ग-गोगरा के मौजूदा हालात होने चाहिए, जहां डिसएंगेजमेंट की प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई है।

स्थिति में कोई बदलाव नहीं आया
जानकारी के लिए बता दें, कि दोनों देशों के कोर कमांडरों की आज यह पांचवीं बैठक है। इस बैठक में भारत मजबूती से फिर एक ही बात कहेगा कि चीन वापस अपनी उसी जगह पर जाए, जहां वो अप्रैल में था।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, चीन दावा कर रहा है कि सभी विवादित प्वाइंट्स पर डिसएंगेजमेंट की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है लेकिन भारत का कहना है कि गोगरा और पैंगॉन्ग में एक पखवाड़े से अधिक समय से स्थिति में कोई बदलाव नहीं आया है।

पैंगॉन्ग झील को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं
ऐसे में एक अधिकारी ने बताया, ‘पैंगॉन्ग और गोगरा एरिया में डिसएंगेजमेंट की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है। चीनी सैनिकों की संख्या कुछ कम जरूर हुई है, लेकिन बहुत कुछ नहीं बदला है।’

बता दें, चीन पैंगॉन्ग झील को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहा है। साथ ही वह दावा कर रहा है कि गलवान घाटी के साथ साथ हॉट स्प्रिंग्स और गोगरा में डिसएंगेजमेंट पूरा हो गया है।

साथ ही चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने पहले बीजिंग में कहा था कि तीन प्वाइंट्स पर डिसएंगेजमेंट पूरा हो गया है। लेकिन पैंगॉन्ग और गोगरा में दोनों तरफ सेना अभी भी बनी हुई है।

CopyAMP code

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *