जाकिर नाइक ने उगला जहर, पैगंबर की आलोचना करने वाले भारतीयों को जेल में डालें मुस्लिम देश..

ट्रेडिंग

भगोड़े इस्लामिक धर्म गुरु जाकिर नाइक ने एक बार फिर से जहरीला बयान दिया है
नाइक ने कहा कि पैगंबर की आलोचना करने वाले गैर मुस्लिमों को जेल में डाला जाए
उसने कहा कि पैगंबर की अलोचना करने वाले ज्‍यादातर लोग बीजेपी के भक्‍त हैं
क्‍वालालंपुर
भारत में नफरत फैलाने के आरोपों का सामना कर रहे भगोड़े इस्लामिक धर्म गुरु जाकिर नाइक ने एक बार फिर से जहरीला बयान दिया है। जाकिर नाइक ने मुस्लिम देशों का आह्वान किया है कि वे पैगंबर मोहम्‍मद की आलोचना करने वाले भारत के गैर मुस्लिमों को उनके देश में आने पर जेल में डाल दें। उसने कहा कि पैगंबर की अलोचना करने वाले ज्‍यादातर लोग बीजेपी के भक्‍त हैं।

जाकिर नाइक ने सऊदी अरब, इंडोनेशिया समेत मुस्लिम देशों का आह्वान किया कि वे इस तरह के भारतीय लोगों का एक डेटाबेस बनाएं ताकि वे जब इस्‍लामी देशों की यात्रा करें तो उन्‍हें अरेस्‍ट किया जा सके। उसने कहा कि इस्‍लामिक देश गैर-मुस्लिम भारतीयों के सभी नकारात्‍मक टिप्‍पणियों और गालियों का एक डेटाबेस बनाएं और उसे कंप्‍यूटर में सेव करके रखें।

मंदिर निर्माण पर जाकिर नाइक ने उगला जहर, बोला- इस्लामी देश में यह हराम

‘जैसे ही लोग आएं उन्‍हें अरेस्‍ट कर लें’
जाकिर नाइक ने कहा, ‘अगली बार जब ये लोग खाड़ी देशों में चाहे वह कुवैत, सऊदी अरब हो या इंडोनेशिया में आएं तो उनकी जांच करें और यह पता लगाएं कि उन्‍होंने कहीं इस्‍लाम या पैगंबर के बारे में अपमानजनक टिप्‍पणी तो नहीं की है। अगर उन्‍होंने ऐसा किया है तो उनके खिलाफ केस दर्ज करके उन्‍हें जेल में डाल दें। यह सार्वजनिक रूप से ऐलान कर दें कि हमारे पास एक डेटाबेस है और उन नामों को सार्वजनिक न करें। जैसे ही ये लोग आएं उन्‍हें अरेस्‍ट कर लें।’

मलेशिया में रह रहे नाइक ने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाकर उन्‍हें जेल में डाल दिया जाए। मेरा विश्‍वास करें, ज्‍यादातर लोग बीजेपी के भक्‍त हैं और इस्‍लाम तथा मुस्लिमों के खिलाफ जहर फैला रहे हैं और इससे वे डर जाएंगे।’ बता दें कि जाकिर नाइक इन भगोड़ा चल रहा है और उसके खिलाफ सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने और भारत में गैरकानूनी गतिविधियों को अंजाम देने का आरोप है।

ब्रिटेन में भगोड़े इस्‍लामिक उपदेशक जाकिर नाइक के पीस टीवी पर भारी जुर्माना

मनी लॉड्रिंग और नफरत फैलाने का आरोप
सरकारी सूत्रों के मुताबिक सरकार मलेशिया सरकार के साथ इस मामले को उठा रही है। नैशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) नाइक के मामले की जांच कर रही है। लेकिन उसके जांच शुरू करने से पहले ही नायक भारत से भाग गया था। इसके बाद से ही वह मुस्लिम बहुल देश मलेशिया में रह रहा है। नायक पर मनी लॉड्रिंग और नफरत फैलाने वाले भाषण देने का आरोप है।

नाइक का नाम 2016 में ढाका में हुए बम धमाकों में भी आया था। इन धमाकों में सैकड़ों लोग मारे गए थे। इन धमाकों में शामिल एक आरोपी ने बाद में स्वीकार किया था कि नाइक के भाषणों के कारण वह यह घिनौना काम करने के लिए प्रेरित हुआ। एनआईए के अधिकारियों के मुताबिक नाइक पिछले तीन साल से मलेशिया में रह रहा है। भारत में उसके भाषण पीस टीवी पर प्रसारित होते थे जिस पर अब प्रतिबंध लगा दिया गया है।

मलेशिया ने नाइक को स्थाई नागरिकता दी
ब्रिटेन और कनाडा ने उसे वीजा देने से इनकार कर दिया था जिसके बाद मलेशिया ने उसे स्थाई नागरिकता दे दी। उसके एनजीओ इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन ने 2007 से 2011 के बीच मुंबई में पीस कॉन्फ्रेंस भी आयोजित किए थे। एनआईए के मुताबिक नाइक पर लोगों का धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश करने और हिंसा फैलाने का भी आरोप है। हालांकि नाइक ने इन सभी आरोपों का खंडन किया है।

CopyAMP code

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *