ट्रैक्टर रैली में हिं’सा के बाद अमित शाह ने लिया बड़ा फै’सला, किसानों की………

ट्रेडिंग


कृषि का’नूनों के खि’लाफ गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड को लेकर मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ। किसान प्रदर्शनकारियों के बैरिकेडिंग तोड़ने, पु’लिस से झ’ड़प और तय रूट से अलग रास्तों पर ट्रैक्टर ले जाने की खबरें दिन भर सुर्खि’यों में रहीं। अब खबर है कि किसान प्रदर्शन में उपद्र’व को केंद्रीय गृह मं’त्रालय ने न सिर्फ संज्ञान में लिया है बल्कि इसके खि’लाफ स’ख्त ए’क्शन लेने की भी तैयारी में है।

ट्रैक्टर परेड में हंगामें की स्थिति बनने के बाद केंद्रीय गृह सचिव ने गृह मंत्री अमित शाह को दिल्ली की मौजूदा स्थिति के बारे में जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि देर रात केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से मा’मले में बड़ा ऐक्शन लिया जा सकता है। कई किसान नेता रडार पर हैं। सिंघू बॉर्डर पर भी ट्रैक्टर परेड के बाद प्रमुख किसान नेता दिखाई नहीं दे रहे हैं। वहीं दिल्ली पु’लिस ने किसानों के प्रदर्शन को उग्र और हिं’सक बताया है। उन्होंने कहा कि प्रद’र्शनका’रियों से झड़प में पु’लिस के 83 जवान घा’यल हुए हैं।

राजधानी में अतिरिक्त बल तै’नात
मा’मले को गं’भीरता से लेते हुए केंद्र सर’कार ने एहतियातन राजधानी में अतिरिक्त पै’रामि’लिट्री फो’र्स तै’नात करने का फै’सला किया है। बताया गया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शांति कायम करने तथा लॉ ऐंड ऑर्डर को दु’रुस्त रखने के लिए अतिरिक्त केंद्रीय बलों की तैनाती की जाएगी। वहीं दिल्ली से सटे हरियाणा राज्य के कई जिलों में प्रदेश सरकार ने इंटरनेट और एसएमएस सेवाओं पर रोक की मियाद बढ़ा दी है। सरकार ने निर्देश जारी किया है कि सोनीपत, पलवल और झज्जर जिलों में बुधवार शाम 5 बजे तक इंटरनेट और एस’एमएस सेवाओं पर रोक रहेगी, ताकि अ’फवाहों को फै’लने से रोका जा सके।

इंटरनेट सेवा बंद
खबर के मुताबिक, हरियाणा के तीन जिलों के अलावा उन सभी बॉर्डर एरियाज में जहां पर प्रदर्शन चल रहा है, रात 12 बजे तक इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। गृह मंत्रालय की तरफ से जारी आदेश के मुताबिक, सिंघु, गाजीपुर, टीकरी, मुकरबा चौक, नांगलोई और आसपास के इलाकों में इंटरनेट बंद कर दिया गया है। कोई URL खोलने पर यह मैसेज आ रहा है क‍ि ‘सरकार के निर्देशानुसार, आपके क्षेत्र में इंटरनेट सेवा अगली सूचना आने तक बंद कर दी गई हैं।’ मोबाइल इंटरनेट सेवा चल रही है।

ट्रैक्टर रैली में हंगामा
बता दें कि मंगलवार को किसानों ने ट्रै’क्टर प’रेड का आह्वान किया था। इसके लिए दिल्ली पु’लिस से मीटिंग के बाद रैली के लिए रूट भी तय किए गए थे लेकिन मंगलवार को किसानों की रैली शुरू होते ही हं’गामे जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई। दोपहर में भारी संख्या में प्र’दर्शनका’री ट्रैक्टरों के साथ लाल किले पर पहुंच गए। इसके बाद वे लाल किले के भी’तर घुस गए और किले की प्राचीर से पीले रंग का झंडा लहरा दिया। वहीं राजधानी में आईटीओ में प्रदर्शनकारी किसानों ने ट्रैक्टरों से बैरिकेड तोड़ दिया। हं’गामा बढ़ने पर पु’लिस ने यहां किसानों पर ला’ठीचा’र्ज कर दिया।

CopyAMP code

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *